राहुल गांधी की ‘आंखों में आंखें नहीं डाल पाने’ बात पर मोदी का जवाब- ‘एक गरीब मां का बेटा….

0
20

New Delhi/Alive News : लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के ‘आंखों में आंखें नहीं डाल पाने’ वाले बयान पर जमकर चुटकी ली. साथ ही अविश्वास प्रस्ताव लाने को लेकर कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों पर जमकर पलटवार किया.

उन्होंने कहा कि सरकार गिराने के लिए विपक्ष उतावला है. मोदी हटाओ विपक्ष का एक मात्र मुद्दा है.

राहुल गांधी की ‘आंखों में आंखें नहीं डाल पाने’ वाली टिप्पणी पर पीएम मोदी ने कहा, ‘एक गरीब मां का बेटा…..पिछड़ी जाति से आने वाला नरेन्द्र मोदी ऐसा साहस कैसे कर सकता है?’

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश ने देखा है कि आंखों में आंख डालने पर सुभाष चंद्र बोस, चौधरी चरण सिंह, जय प्रकाश नारायण, मोरारजी देसाई और सरदार वल्लभ भाई पटेल के साथ क्या हुआ? उन्होंने कहा कि आंख में आंख डालने वालों को कांग्रेस ने ठोकर मारकर बाहर कर दिया.

राहुल गांधी पर जवाबी हमला बोलते हुए मोदी ने कहा, ‘आप तो नामदार हैं और मैं तो कामगार हूं. हम आपकी आंखों में आंख कैसे डाल सकते हैं?’ उन्होंने कहा कि आंखों का खेल पूरे देश ने देखा है. आंखों की बात करके ‘आंख की हरकत’ पूरे देश ने देखी है. आंखों की बात करके सत्य को पूरी तरह से कुचला गया है.

लोकसभा में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए मोदी ने कहा, ‘मैं प्रार्थना करूंगा कि साल 2024 में ईश्वर आपको इतनी शक्ति दे कि आप फिर से अविश्वास प्रस्ताव लाएं. मेरी आपको शुभकामनाएं.’

मोदी ने कहा कि राहुल गांधी का मकसद सिर्फ प्रधानमंत्री बनने का है. उन्होंने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि आप प्रधानमंत्री बनने के लिए कम से कम अविश्वास प्रस्ताव का बहाना तो न बनाइए.

मोदी ने राहुल को आड़े हाथ लेते हुए कहा, ‘अहंकार ही कहता है कि हम खड़े होंगे तो प्रधानमंत्री 15 मिनट तक खड़े नहीं हो पाएंगे.’ प्रधानमंत्री ने कहा, ‘मैं खड़ा भी हूं और चार साल जो काम किए हैं, उस पर अड़ा भी हूं. मैं चौकीदार भी हूं और भागीदार भी, लेकिन सौदागर और ठेकेदार नहीं हूं. मैं गरीबों और युवाओं के सपनों का भागीदार हूं.’

उन्होंने कहा कि कांग्रेस जब सत्ता में नहीं होती है, तब अस्थिरता और अफवाह फैलाने का काम करती है.

मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव गिरा

लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ पहली बार अविश्वास प्रस्ताव लाया गया, जो वोटिंग के दौरान गिर गया. इस दौरान विपक्ष के 126 वोट के मुकाबले मोदी सरकार को 325 वोट मिले यानी अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ 325 सदस्यों ने वोट दिया, जबकि इसके पक्ष में 126 वोट पड़े.

बुधवार को टीडीपी सांसद की ओर से लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने मंजूर किया था, जिसके बाद उस पर चर्चा के लिए शुक्रवार का दिन तय हुआ था.

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here