MRIIRS के दायरे में आया मानव रचना डेंटल कॉलेज

0
86

. देशभर के टॉप 24 कॉलेज में से एक है मानव रचना डेंटल कॉलेज

· सरकार ने एमआरडीसी को MRIIRS में शामिल करने की मंजूरी दी

Faridabad/Alive News: मानव रचना डेंटल कॉलेज अब मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज (एमआरआईआईआरएस) के दायरे में आ गया है। यूजीसी अधिनियम, 1956 की धारा 3 के तहत मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय, भारत सरकार ने मानव रचना डेंटल कॉलेज को एमआरआईआईआरएस के दायरे में शामिल करने के लिए अपनी मंजूरी दे दी है। दरअसल, यूजीसी की ओर से एक्सपर्ट कमेटी स्थापित की गई थी जिसमें डेंटल काउंसिल ऑफ इंडिया का भी एक सदस्य शामिल था, उनके सुझाव के बाद यह निर्णय लिया गया।

आपको बता दें, मानव रचना डेंटल कॉलेज 2006 में स्थापित किया गया था। यह स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय और डेंटल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा बीडीएस डिग्री और एमडीएस डिग्री के लिए मान्यता प्राप्त है। यह पहले पं. बी डी शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, रोहतक से संबद्ध था।

एमआरडीसी के प्रिंसिपल डॉ. अरुणदीप सिंह ने बताया, एमआरआईआईआरएस सत्र 2019-20 के बाद से भर्ती हुए डेंटल छात्रों को डिग्री प्रदान करेगा। हालांकि, एमडीएस के छात्रों सहित पिछले बैच के छात्र, जिन्होंने सत्र 2019-20 में पहले ही प्रवेश ले लिया है, वह पं. बी डी शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के साथ नामांकित रहेंगे।

उल्लेखनीय है कि मानव रचना डेंटल कॉलेज एक NAAC Grade A ’ग्रेड मान्यता प्राप्त संस्थान है, जिसमें अत्याधुनिक बुनियादी ढांचा है। नवाचार और अनुसंधान पर व्यापक ध्यान देने के साथ, MRDC विभिन्न सर्वेक्षणों के अनुसार देश के शीर्ष 24 डेंटल कॉलेजों में से एक है।

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here