Faridabad/Alive News : पल्ला स्थित भारतीय विद्या कुंज स्कूल राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस मनाया गया। स्वास्थ्य विभाग के सौजन्य से छठी से 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को ‘एलबेंडाजोल’ की एक-एक गोली खिलाई गई। सबसे पहले प्रार्थना सभा में प्रधानाचार्य और अध्यापकों ने बच्चों के समक्ष स्वयं इस कृमि नियंत्रण गोली का सेवन किया।

इसके बाद शेष बचे विद्यार्थियों और स्टाफ सदस्यों ने इस दवा को लिया। इस मौके पर प्रिंसिपल कुसुम शर्मा ने विद्यार्थियों को कृमि संक्रमण के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि आम तौर पर जो तीन तरह के कृमि पाए जाते हैं उनमें राउंड वर्म, टेप वर्म तथा हुक वर्म शामिल हैं।

नंगे पैर खेलने से, बिना हाथ धोए खाना खाने से, खुले में शौच से और साफ-सफाई न रखने से कृमि बच्चों के पेट में पहुंच सकते हैं। पेट के कीड़ों से ग्रसित बच्चे कुपोषण व खून की कमी का शिकार होते हैं। ऐसे बच्चे को हमेशा थकावट रहती है और उनका सम्पूर्ण शारीरिक एवं मानसिक विकास नहीं हो पाता है। उन्होंने यह भी बताया कि इस गोली का कोई दुष्प्रभाव नहीं होता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here