नेहरू कॉलेज की जर्जर इमारत को लेकर पूर्व विधायक को सोंपा ज्ञापन

0
18

Faridabad/Alive News : जिले के सबसे बड़े पंडित जवाहर लाल नेहरू कॉलेज की इमारत जर्जर हो चुकी है। जिसको लेकर एनएसयूआई फरीदाबाद द्वारा अनिश्चितकालीन (दिन रात) धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। इस अनिश्चितकालीन धरने को आज चौथा दिन है। इस अनिश्चितकालीन धरने प्रदर्शन में कृष्ण अत्री के नेतृत्व में सैकड़ों छात्रों द्वारा इस जर्जर इमारत को जल्द से जल्द बनवाने की मांग कर रही है।

पूर्व विधायक आंनद कौशिक और हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव बलजीत कौशिक व ऑल इंडिय़ा प्रोफेशनल कांग्रेस फरीदाबाद के जिला प्रधान डॉ सौरभ शर्मा ने धरने पर बैठे छात्रों की इस गंभीर समस्या को जानने पहुंचे जहां एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री, जिला उपाध्यक्ष सुनील मिश्रा के नेतृत्व में सैकड़ों छात्रों पूर्व विधायक को इस जर्जर इमारत व कलेजों से जुड़ी मुख्य मांगों को लेकर एक ज्ञापन सोंपा।

एनएसयूआई द्वारा रखी गईं प्रमुख मांगे इस प्रकार है, सभी सरकारी कॉलेजों में यूजी, पीजी कक्षाओ में 20 प्रतिशत सीट बढ़ाने की मांग, छात्रसंघ चुनाव बहाल तथा प्रत्यक्ष रूप कराने व फरीदाबाद में एक रीजनल सेंटर बनवाने की मांग व मैगपाई चौक पर छात्रों को रोड़ पार कराने के लिए फुटओवर ब्रिज का निर्माण व प्रत्येक कॉलेज में छात्रों के लिए वूमैन सेल का गठन जैसी अन्य कई मांग की है।

कृष्ण अत्री ने पूर्व विधायक आंनद कौशिक को बताया कि कालेज की इमारत जर्जर हो चुकी है। जगह-जगह से प्लास्टर झडऩे लगा है। पीडब्ल्यूडी बी एंड आर विभाग द्वारा भी कॉलेज की बिल्डिंग को कंडम घोषित कर दिया गया है। जिस पर हम सभी छात्र मिलकर जिले के मंत्रियों से इमारत के पुन: निर्माण की गुहार कर चुके हैं। लेकिन अभी तक कॉलेज का निमाण कार्य शुरू नहीं करवाया गया।

आंनद कौशिक ने छात्रों को आश्वासन दिया कि इस संर्दभ में जल्द से जल्द उचित कार्यवाही करेंगे। पूर्व विधायक आंनद कौशिक जिले के मंत्रियों पर निशाना साधते हुए कहा कि में जिले में दो दो भाजपा के मंत्री होते हुए भी नेहरू कॉलेज की जर्जर इमारत के नाम पर छलावा किया जा रहा है। पिछले एक साल से सुनने में आ रहा है कि इमारत का निर्माण जल्द शुरू किया जाएगा लेकिन नही हुआ है। ऐसा सुनने में आता है कि 52 करोड़ का टेंडर पास हुआ पड़ा है लेकिन पता नही कैसे इमारत के निर्माण का पहिया रुक गया है । उन्होंने बताया अगर इसे जल्दी से निर्माण नहीं गिराया गया तो किसी दिन भी कोई यहां हादसा हो सकता है जिसमें पर सैकड़ों छात्र दबकर मर सकते है।

 

कौशिक ने बताया कि कॉलेज में फरीदाबाद ही नहीं बल्कि पलवल के भी गांवों से हजारों विद्यार्थी पढऩे के लिए आते हैं। कॉलेज स्नातकोत्तर होने की वजह से यहां पर पढऩे वाले विद्यार्थियों की संख्या हजारों में बताई जाती है। कॉलेज में दाखिला लेने के लिए सबसे ज्यादा मारामारी रहती है। कॉलेज की इमारत 50 वर्ष पहले बनाई गई थी। अब भवन काफी पुराना हो गया है। भवन का प्लास्टर और लेंटर उखडक़र गिर रहा है। इसकी तरफ कॉलेज प्रबंधन और प्रशासन कोई ध्यान नहीं दे रहा है। जर्जर कमरों के अभी भी कक्षा लगती हैं। यदि किसी दिन कोई बड़ा हादसा हो गया तो तब प्रशासन के पास कोई भी जबाब नहीं होगा।

प्रशासन को समय रहते हुए, इस भवन को गिराकर नया बनाना चाहिए। इस मौके पर एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री, जिला उपाध्यक्ष सुनील मिश्रा, मीडिया कोऑर्डिनेटर अजित त्यागी एवं मोहित चंदीला, जिला महासचिव रूपेश झा, छात्र नेता विकास फागना, गौरव कौशिक, नरेश राणा, मनीष मल्होत्रा, वरुण पंडित, सचिन, विक्रम यादव, कृष्णा, अनमोल, शैंकी, आरिफ, सोनू सिंह, साहिल खान, दीपक, अंकित, राहुल कौशिक, नरेश शर्मा, राहुल, निशा, सीमा, राज, चेतन, अशोक, अजय, निखिल, कन्हैया, शिवम, राहुल, मन्नू अरोड़ा, मोहित डंग, संदीप, अक्की पंडित, नीरज, आशीष, दीपक भारद्वाज, शंकर आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here