केन्द्र सरकार के एनआईईएलआईटी ने विद्यार्थियों को ऑफर किए शार्ट टर्म कोर्स, शार्ट टर्म कोर्स में होगा 15 जून तक दाखिला, लांग टर्म कोर्सेस में 25 जून तक होगा दाखिला, शार्ट टर्म कोर्सेस के लिए निर्धारित की 3500 रुपए से 6 हजार रुपए की फीस

Kurukshetra/Alive News
अतिरिक्त उपायुक्त धर्मवीर सिंह ने कहा कि कुरुक्षेत्र और आपपास के युवाओं के लिए एक अच्छी खबर हैं। इस क्षेत्र के बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को अपने पैरों पर खड़ा होने के लिए कुशल बनाने का काम किया जाएगा। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के विशेष प्रयासों से कुरुक्षेत्र के गांव उमरी में एनआईईएलआईटी में 6 सप्ताह से लेकर 26 सप्ताह तक के लघु और लम्बे कोर्साे को शुरु किया जा रहा हैं। इन शार्ट टर्म कोर्सो में दाखिला लेने की तारीख 15 जून और लम्बे समय के कोर्सो के लिए दाखिले की तारीख 25 जून निर्धारित की गई हैं। वे मंगलवार को अतिरिक्त उपायुक्त कार्यालय में एनआईईएलआईटी के अधिकारियों की एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा कुरुक्षेत्र में राजकीय पोलटेक्निकल कैम्पस उमरी में राष्ट्रीय इलेक्ट्रोनिक एवं सूचना प्रोद्यौगिकी संस्थान में छोटे और बड़े कोर्सो में दाखिला की प्रक्रिया शुरु कर दी गई हैं।

इस समय केन्द्र मंत्रालय द्वारा पूरे देश में 35 केन्द्रों की स्थापना की जा चुकी हैं। इन शार्ट टर्म कोर्सो के लिए 15 जून और लांग टर्म कोर्सो के लिए 25 जून तक दाखिला लिया जा सकता हैं। इन कोर्सो में दाखिला लेने के लिए योग्यता बारहंवी होनी चाहिए। इतना ही नहीं शार्ट टर्म कोर्सो में 6 सप्ताह के विभिन्न कोर्सो के लिए 3500 रुपए से 6 हजार रुपए, 1 साल के कोर्सो के लिए 15 हजार से 30 हजार, इंडस्ट्रीयल ट्रेनिंग के 26 सप्ताह के कोर्सो के लिए 12 हजार रुपए, डिजीटल साक्षरता के 3 सप्ताह के कोर्स की फीस 2 हजार और 6 सप्ताह के कोर्स की फीस 3 हजार रुपए रखी गई हैं। जबकि सरकारी कर्मचारियों के लिए अलग से फीस शैडयूल तय किया हैं। उन्होंने कहा कि नए विद्यार्थियों को शार्ट टर्म कोर्सेस में सीसीसी और बीसीसी, साफ्ट स्कील एंड कमन्यूकेटिव अंग्रेजी, वेब डिजाईनिंग, टेली फाईनेशियल अकाउटिंग करवाया जाएगा।

इसके अलावा शार्ट टर्म कोर्सेस में पीएचपी एंडवांश डेवेलपमैंट, एएसपी डाट नेट विद वीबी डाट नेट, एएसपी डाट विद सी, प्रोग्रामिंग सी लैंग्वेज, कोर जावा, आरकॉल एसक्यूएल, 2डी एनिमेशन, सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन, सूचना सुरक्षा और सायबर कानून का कोर्स करवाया जाएगा। इसके अलावा लांग टर्म कोर्स भी करवाएं जाएंगे। उन्होंने कहा कि इन कोर्सो को पूरा करने के बाद युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे। इस मौके पर एनआईईएलआईटी के निदेशक इंचार्ज तिजेन्द्र सिंह बावा, संजीव सूद, डीआईओ एनआईसी विनोद सिंगला उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here