निकिता का शव अंतिम संस्कार के लिए रवाना, लोगों के आक्रोश को देखते हुए भारी पुलिस मौजूद

0
23
Sponsored Advertisement

Faridabad/Alive News: दिल्ली से सटे बल्लभगढ़ में सोमवार शाम छात्रा निकिता की गोली मारकर हत्या का मामला गरमा गया है। 24 घंटे बाद भी शव का अंतिम संस्कार नहीं हुआ है। इस बीच भारी पुलिस बल की मौजूदगी में निकिता का शव पोस्टमार्टम होने के बाद अंतिम संस्कार के लिए रवाना किया गया है।

घटना के बाबत सीएम मनोहर लाल ने कहा कि आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है, वहीं अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। वहीं जान गंवाने वाली निकिता के पिता का कहना है कि आरोपित तौफीक जबरदस्ती कार में बैठाना चाहता था। इनकार करने पर बेटी को गोली मार दी।

इससे पहले मंगलवार दोपहर में पुलिस ने दूसरे आरोपित रेवान को भी नूंह से गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले सोमवार देर रात को मुख्य आरोपित तौफीक को पुलिस ने नूंह से गिरफ्तार किया था।

मंगलवार सुबह निकिता के स्वजनों व अन्य लोगों ने मंगलवार सुबह बल्लभगढ़-सोहना मार्ग पर जाम लगा दिया। मृतका के भाई नवीन का आरोप है कि इससे पहले भी उनकी बहन के अपहरण की कोशिश की गई थी, लेकिन दिल्ली पुलिस ने उस समय उचित कार्रवाई नहीं की थी। भाई नवीन ने अब इस मामले में दूसरे आरोपित को जल्द गिरफ्तार करने और सख्त सजा दिलाने की मांग थी।

मंगलवार सुबह से ही एसीपी मुख्यालय आदर्शदीप मौके पर पहुुंचे हुए हैं। जाम लगा रहे लोगाें को समझाने का प्रयास जारी है। पुलिस आरोपित तौफीक को मंगलवार को अदालत में पेश कर रिमांड पर लेगी। दूसरा आरोपित भी पकड़ा जा चुका है। बता दें कि इससे पहले पुलिस आयुक्त ओपी सिंह सोमवार देररात मृतका छात्रा के स्वजनों से मिले थे।

आरोपितों को जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया था।
गौरतलब है कि एकतरफा प्यार में पड़े रोजकामेव नूंह निवासी ताैफीक ने सिटी बल्लभगढ़ थाना क्षेत्र में तृतीय वर्ष की छात्रा निकिता की गोली मारकर हत्या कर दी थी। उसने अग्रवाल कॉलेज के ठीक सामने वारदात को अंजाम दिया। हमलावर अपने साथी के साथ कार में सवार होकर आया था। उसने पहले छात्रा को कार में खींचने का प्रयास किया। असफल रहने पर गोली मार दी।

Print Friendly, PDF & Email
Sponsored Advertisement