New Delhi/Alive News : दिल्ली यूनिवर्सिटी और पंजाब के कुछ स्कूलों व कॉलेजों में छात्रों के कपड़ों पर रोक-टोक और उन्हें संस्कारी बनाने को लेकर सामने आई घटनाओं के बाद अब उत्तर प्रदेश का मामला सामने आया है, जहां छात्रों को अनुशासित करने के लिए उनके जींस और टी-शर्ट पहनने पर ही रोक लगाया जा सकता है.

जी हां, यह मामला बरेली का है, जहां के हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट्स में कोई भी छात्र अब जींस और टी-शर्ट पहनकर नहीं जा सकेगा. क्योंकि प्रशासन ने कैंपस के लिए ड्रेस कोड जारी कर दिया है, जिसमें जींस और टी-शर्ट कहीं भी नहीं है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्रशासन द्वारा यह कदम इंस्टीट्यूट्स के माहौल को अनुशासित करने के लिए उठाया गया है.

हालांकि कॉलेजों को अपने अनुसार ड्रेस कोड रखने की छूट दी गई है पर इसमें टी-शर्ट और जींस नहीं है. हालांकि, गत शैक्षिक सत्र के अंत में प्रशासन ने निर्देश जारी किया था कि शिक्षक या कर्मचारी कैंपस में जींस, टीशर्ट पहनकर नहीं आएंगे. लेकिन बाद में ये आदेश वापस हो गया. बहरहाल, अब तक डिग्री कॉलेजों में ड्रेस कोड लागू नहीं किया गया. अब नया सत्र शुरू हो गया है.

इस कदम के पीछे प्रशासन का मानना है कि छात्रों को साधारण कपड़ों में कॉलेज आना चाहिए. शिक्षा विभाग को निर्देशित किया गया है कि नए सत्र से कॉलेजों में ड्रेस कोड लागू कराया जाए. शासन के निर्देश पर क्षेत्रीय उच्च शिक्षा विभाग रुविवि से संबद्ध नौ जिलों के सभी 498 डिग्री कॉलेजों को ड्रेस कोड लागू करने का पत्र जारी करेगा. क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी डॉ. आरपी यादव शासन की मंशा कॉलेज में पठन-पाठन और अनुशासन का माहौल बनाना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here