‘स्टैंडर्डाइजेशन एवं कैलिब्रेशन’ पर दो दिवसीय कार्यशाला आयोजित

0
7

Faridabad/Alive News: जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा हरियाणा राज्य इलेक्ट्रॉनिक्स विकास निगम लिमिटेड (हाॅरट्रोन) संयुक्त तत्वावधान में ‘स्टैंडर्डाइजेशन एवं कैलिब्रेशन’ (मानकीकरण एवं अंशांकन) विषय पर दो दिवसीय टीईक्यूआईपी प्रायोजित कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। विश्वविद्यालय के इंडस्ट्री रिलेशन्स सेल के सहयोग से आयोजित इस कार्यशाला में 100 से अधिक प्रतिभागी हिस्सा ले रहे हैं। कार्यशाला का संचालन हाॅरट्रोन के इंजीनियर्स एवं विशेषज्ञों द्वारा किया जा रहा है।

कार्यशाला का शुभारंभ आज कुलपति प्रो दिनेश कुमार और हाॅरट्रोन के सहायक महाप्रबंधक डी.एस. काजल द्वारा किया गया। इस अवसर पर कुलसचिव डॉ. एस.के. गर्ग तथा टीईक्यूआईपी समन्वयक डाॅ. मनीष वशिष्ठ भी उपस्थित थे।

गुणवत्ता आश्वासन के मानकों को किसी भी उत्पाद या सेवाओं के लिए सबसे महत्वपूर्ण पहलू बताते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि प्रत्येक उत्पाद या व्यवसायिक सेवा की गुणवत्ता को परखने के लिए मानक तय हैं जो किसी भी उत्पाद, उपयोग होने वाले विभिन्न उपकरणों अथवा इमारतों के निर्माण में गुणवत्ता, सुरक्षा और विश्वसनीयता को सुनिश्चित बनाते है। इन मानकों की जांच विधि को जानना बेहद जरूरी है। इसलिए, विद्यार्थियों के मानकों की जांच पद्धति और तकनीकों को सीखने की आवश्यकता है जो आगे उन्हें करियर के विकास में मदद करेगी।

सत्र को संबोधित करते हुए डी.एस. काजल ने कार्यशाला के उद्देश्य एवं विषय-वस्तु पर विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कार्यशाला से स्किल इंडिया, मेक इन इंडिया और स्टार्ट अप इंडिया जैसे केंद्र सरकार के प्रमुख कार्यक्रमों को समझने में मदद मिलेगी।

उन्होंने बताया कि कार्यशाला हरियाणा तकनीकी शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव अंकुर गुप्ता के मार्गदर्शन में हाॅरट्रोन की एक अनूठी पहल है। उन्होंने विद्यार्थियों को कार्यशाला में रूचि लेने के लिए प्रेरित किया। इससे पहले, निदेशक, इंडस्ट्री रिलेशन्स डॉ. रश्मि पोपली ने कार्यशाला में अतिथियों, विशेषज्ञ वक्ताओं तथा प्रतिभागियों का स्वागत किया। उद्घाटन सत्र का समन्वय डॉ. संजीव गोयल द्वारा किया गया।

Print Friendly, PDF & Email