Faridabad/Alive News : राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, नई दिल्ली के तत्वावधान में स्थानीय लिंग्याज विद्यापीठ स्कूल ऑफ लॉ द्वारा एक दिवसीय मानवाधिकार प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में लिंग्याज विद्यापीठ के चांसलर डा. पिचेश्वर गड्डे तथा कुलपति प्रो. डॉक्टर आर.के. चौहान ने मानवाधिकार संरक्षण से संबंधित विभिन्न बिन्दुओं पर सहभागियों का ज्ञानवर्धन किया।

कार्यक्रम के शुरुआत में प्रशिक्षण कार्यक्रम की संयोजिका एवं स्कूल ऑफ लॉ की विभागाध्यक्ष डा. भावना शर्मा ने प्रतिभागियों को मानवाधिकार संरक्षण के लिए शपथ दिलाई।

हिदायातुल्ला नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी रायपुर के पूर्व कुलपति प्रो. जोस पी. वर्गीस ने महिलाओं तथा बच्चों के अधिकारों के बारे में विशेष जानकारी दी। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के असिस्टेंट रजिस्ट्रार विधि ने भारत में मानवाधिकार संस्थाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी। इग्नू स्कूल ऑफ लॉ के डायरेक्टर प्रो. के. इलूमलाई ने मानवाधिकार संरक्षण के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां दीं।

अंतिम सत्र में दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रो. अनुपम झा ने कमजोर समूहों के अधिकारों के बारे में जानकारी दी। असिस्टेंट प्रोफेसर अजय कुमार, माधवी चोपड़ा तथा सीमा गौतम ने इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के सफल आयोजन में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here