पार्षद के खोखले दावों को झूठा साबित कर रही है वार्ड-5 की बदहाली

0
46
Faridabad/Alive News  : नगर निगम के वार्ड-5 की जनता मूलभूत सुविधाओं के अभाव में नरकीय जीवन जीने के लिए मजबूर है। पर्वतीया कॉलोनी में लोगों को पीने के पानी की बड़ी किमत चुकानी पड़ रही है तो वहीं ईको ग्रीन द्वारा घर से कूड़ा न उठाने पर कॉलोनी के खाली प्लॉट डम्पिंग जॉन का रूप ले रहे है।
समय पर नाली और सीवर साफ न होने से गंदा पानी सडक़ों पर भरा हुआ है। स्थानीय लोगों में जलभराव और कूड़े से भंयकर बिमारी फैलने का अंदेशा बना हुआ है। उधर, क्षेत्र के विधायक स्वीकार कर रहे हैं कि कुछ जगह अभी काम बाकी हैं। एक तरफ सरकार के पांच साल पूरे हो रहे हैं और लोग मूलभूत सुविधाओं को लेकर जनप्रतिनीधि को कोस रहे हैं।
 
 
व्यस्त पार्षद को सम्मान समारोह के लिए मिलती है फुर्सत
स्थानीय निवासी नवीन सैनी ने बताया कि पार्षद क्षेत्र में कभी वार्ड में समस्याओं के लिए सुध लेने के लिए नहीं आती, पर उसी क्षेत्र में सम्मान समारोह में सम्मान लेने फुर्सत जरूर मिलती है।
 
-सफाई के नाम पर स्वीपर करते है अवैध वसूली 
रामेश्वर प्रसाद ने बताया कि कॉलोनी की सभी सीवर लाईन और नालियां बंद पड़ी है। वार्ड में सफाई व्यवस्था चरमरा गई है। बावजूद उसके सफाई कर्मचारी वार्ड में सफाई के नाम पर प्रत्येक घर से अवैध वसूली करने में कोई कसर नही छोड़ी है।
 
-प्यास बुझाने के लिए करनी पड़ती है जेब खाली
सुमन सक्सेना ने बताया कि उनके क्षेत्र में स्वच्छ पानी के लिए तरस रहे है, एक दिन में करीब 50-60 रूपए स्वच्छ पानी के लिए खर्च करना अब आमजन की मजबूरी बन गई है।
कूड़ा उठान के अभाव में खाली प्लॉट बने डम्पिंग जॉन
राजकुमारी तिवारी ने बताया कि क्षेत्र में डोर टू डोर वाहन भी नही आता, जिससे लोगों ने खाली पड़े प्लॉटों को ही डम्पिंग जॉन बना लिया है। इन कूडें के अंबार से लोगों का संास लेना भी मुहाल हो रहा है।
क्या कहते है विधायक
पहले से पीने के पानी के लिए काफी इजाफा हुआ है, लेकिन इतना है कि अभी समस्या पूर्ण हल नहीं हुई है। हम प्रयास कर रहे है कि उस समस्या का पुख्ता प्रबंध हो सके, जिसके लिए पानी की नई लाईन भी डाली जा रही है।
नगेंद्रर भड़ाना, एनआईटी विधायक फरीदाबाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here