पेड़ों को प्रसाद के रूप में दें और पुत्र की तरह पालें- विपुल गोयल

0
101

Faridabad/Alive News :प्रधानमंत्री आदरणीय नरेंद्र मोदी जी ने आह्वान किया है कि हर बूथ पर “पंचवटी” यानी 5 पेड़ लगाएं, प्रधानमंत्री जी की मानवता के लिए की जा रही इस विशेष पहल का अनुशरण करते हुए हरियाणा के उद्योग एवं पर्यावरण मंत्री  विपुल गोयल ने फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी के साथ पोल्यूशन फ्री शहर बनाने की दिशा में बड़ा कदम उठाया है. फरीदाबाद में 26, 27, और 28 जुलाई को मेगा प्लानटेशन किया जाना है जिसके लिए  गोयल एक लाख से ज्यादा लोगों को इस अभियान से जोड़ना चाहते हैं। अभियान की सफलता के लिए आज 10 जुलाई को सर्किट हाउस में समाज के सभी वर्ग के प्रमुखों के साथ बैठक कर मेगा वृक्षारोपण कार्यक्रम को सफल बनाने की अपील की।

गोयल ने कहा कि मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, चर्च हर जगह ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएं, उन्होंने कहा कि पौधे प्रसाद के रूप में दें और पुत्र की तरह पौधों की देखरेख करें पालन-पोषण करें ताकि लगाए गए पौधे तैयार हो कर पर्यावरण को स्वच्छ बनाने में मददगार साबित हों। गोयल का कहना है कि यह कर्यक्रम केवल सरकारी उपक्रम तक सीमित ना रहे बल्कि वृक्षारोपण एक जन अभियान बने और फरीदाबाद देश के सामने मिसाल बन कर उभरे। इससे पहले 9 जुलाई को हरियाणा के उद्योग एवं पर्यावरण मंत्री  विपुल गोयल ने जिला अधिकारियों के साथ इन मुद्दो पर व्यापक चर्चा कर अभियान को सफल बनाने के लिए सभी को जरूरी दिशा-निर्देश जारी किया था। कैबिनेट मंत्री विपुल गोयल ने कहा कि पेड़ लगाने का केवल कोरम पूरा नहीं करना है बल्कि उससे बड़ी जिम्मेदारी लगाए गए पौधों के पालन-पोषण को सुनिश्चित करना भी है, ताकि ये जन अभियान सफल हो और इसके मायने भी सार्थक हों, और आगामी 3-4 सालों में फरीदाबाद हरा-भरा नजर आए।

फरीदाबाद में मेगा प्लानटेशन कार्यक्रम को योजनाबद्ध तरीके से सफल बनाने के लिए लगातार गोयल समाज के सभी वर्ग प्रमुख और आर.डब्लू.ए. के पदाधिकारियों के साथ मुलाकात कर उन्हें इस महाअभियान से जोड़ने में लगे हैं…तीन दिवसीय अभियान के आखिरी दिन 28 जुलाई को बड़ा कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इस दिन पौधे वितरित करने के साथ-साथ पौधा ग्रहण करने वालों से पालन-पोषण का संकल्प भी लिया जाएगा। गोयल ने कहा कि सभी का मिलाजुला प्रयास हो कि फरीदाबाद में जगह-जगह छोटे-छोटे फोरेस्ट विकसित हो सकते हैं। छात्र-छात्राएं जो देश का भविष्य हैं उन्हें पेड़-पौधों के महत्व और मौजूदा समय में इसकी जरूरत को समझाने की सभी कोशिश करें, पर्यावरण मंत्री ने बरसात के पानी को अमृत बताया और बरसात के पानी का संचय भविष्य के लिए अति आवष्यक निरूपित किया।

गोयल ने माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू किए गए जल शक्ति अभियान का जिक्र करते हुए कहा कि वर्षा जल संचयन, जल संरक्षण का सबसे बड़ा श्रोत है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी पार्टी लाईन और राजनीति से ऊपर उठ कर मानवता के लिए जो काम कर रहे हैं उसमें सभी को सम्मिलित होना चाहिए जिससे हम अपनी आने वाली पीढ़ी को विरासत में सुखद ज़िंदगी और स्वच्छ वातावरण दे कर जाएं।

इस बैठक में नव चेतना ट्रस्ट की ओर से श्री एस.एस बंगा और प्रशांत भल्ला जी, मार्केट कमेटी के चेयरमैन मुकेश शास्त्री, अमन गोयल जी। सुनील आनंद जी, शहबाज़ जी, सचिन माहेश्वरी, वसीर अहमद बाबानगर, तेज सिंह सैनी, तरुण गुप्ता, संजीव वालिया, राकेश बैसला, विनेश अग्रवाल, धर्मपाल, मौलाना असलम- इमाम मस्जिद पीरबाबा, मुफ्ती मुस्तजाबुद्दीन बाबा नगर, मोहम्मद समीउर रहमान डिप्टी इमाम, अजय भट्ट RWA sec-9, राजेश शरना, गुरजीत सिंह अध्यक्ष गुरुद्वारा श्री गुरु सिंहसभा सेक्टर-9 फरीदाबाद सहित बड़ी संख्या में सम्मानित जनों ने कार्यक्रम में शिरकत कर मेगा प्लानटेशन कार्यक्रम को सफल बनाने का भरोसा दिलाया।

Print Friendly, PDF & Email