पुलिस की लापरवाही से लाडियाका गांव में दलित और स्वर्ण जाति में तनी, एक समाज भय के साये में

0
25

Palwal/ Alive News: पलवल के गांव लाडियाका में कुछ दबंगो ने दलित समाज की महिला और पुरुषो के साथ मारपीट की और अभद्र जातिसूचक शब्दों का प्रयोग किया। इस घटना में गंभीर रूप से घायल चार लोगों को परिजनों द्वारा अस्पताल में दाखिल कराया गया हैं। उधर दलित समाज का पुलिस प्रशासन पर आरोप हैं कि पुलिस द्वारा पीड़ितों का पक्ष लेने की वजाय अपराधियों का सहयोग किया जा रहा हैं
प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार गांव लाडियाका में स्वर्ण जाति के लोगों ने दलित समाज की महिला और पुरुषों को बेरहमी से पीट कर घायल कर दिया और जब परिवार के लोगों ने पुलिस से मदद की गुहार लगाई तो उनकी पुलिस द्वारा कोई सहायता नहीं की गयी। उन्होंने यह भी कहा कि पुलिस के गैर-जिम्मेदाराना रवैये के कारण दलित परिवार को जान माल का अपराधियों से खतरा हैं।

उपरोक्त जानकारी घायल हरिचंद ने प्रेस विज्ञाप्ति के माध्यम से बताया कि शनिवार देर रात लगभग 9 बजे हरिजन चौपाल के पास स्वर्ण जाति के दबंग लोग हरिजन जाति के लोगों को अपशब्द और अभद्र व्यवहार कर टिप्पणियां कर रहे थे, जब उन्होंने दबंगो का विरोध किया तो उन पर हमला कर दिया जिसमें चार लोगो को गंभीर चोटें आई हैं। हमलावरों ने लाठी-डंडो और कुल्हाड़ी से हरिचंद, प्रभाती, प्रीतम और श्यामवती, चंद्रावती महिला को गंभीर चोट पहुचायी हैं जिन्हे प्राथमिक उपचार के लिए सिविल अस्पताल पलवल में भर्ती कराया गया जहां उनका इलाज चल रहा हैं।

इस मामले में दलित समाज ने हरियाणा सरकार और पुलिस प्रशासन से अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की अपील की हैं।

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here