रोहतक पीजीआई के CMO को छह माह के लिए किया सस्पेंड, ये है वजह

0
79

Rohtak/Alive News : रोहतक पीजीआई के सीएमओ को छह माह के लिए सस्पेंड कर दिया गया। दरअसल हरियाणा की पहली महिला सांसद एवं पुडुचेरी की पूर्व उपराज्यपाल 92 वर्षीय चंद्रावती के पंडित भगवत दयाल शर्मा पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (पीजीआइएमएस) में इलाज में लापरवाही में इमरजेंसी के सीएमओ को निलंबित कर दिया है।

बताया जा रहा है कि प्रोटोकॉल के मुताबिक वीआइपी कमरा नहीं मिला था, जिसके कारण स्वजन उनको पीजीआइ से निजी अस्पताल ले गए थे। मामले में पीजीआइ प्रबंधन ने तीन सदस्यीय कमेटी गठित की जांच कराई। जांच में सीएमओ को ड्यूटी पर गैरहाजिर पाया गया। इसी को आधार बनाते हुए सीएमओ को छह माह के लिए निलंबित किया गया है।

बता दें कि 13 जून को पूर्व उपराज्यपाल चंद्रावती को चरखी दादरी स्थित उनके आवास से पीजीआइ में लाया गया था। चारपाई से गिरने पर उनके कूल्हे की हड्डी में फ्रैक्चर हो गया था। पीजीआई के इमरजेंसी वार्ड में पहले तो इलाज के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा।

इसके बाद वीआइपी कमरा भी नहीं दिया गया। इससे परेशान होकर स्वजन पूर्व उपराज्यपाल को निजी अस्पताल ले गए। पूर्व उपराज्यपाल को इलाज नहीं मिलने पर विपक्ष के नेताओं ने सरकार को घेरने का काम किया। पीजीआइ प्रबंधन ने इस मामले में 17 जून को कमेटी गठित कर पूरे मामले की जांच के निर्देश दिए।

Print Friendly, PDF & Email