एससी-एसटी एक्ट को बनाया रोजगार का धंधा : दीपक गौड़

0
95
Sponsored Advertisement

Faridabad/Alive News : आरक्षण विरोधी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक दीपक गौड़ ने कहा कि ग्रेटर फरीदाबाद के गांव महावतपुर में हुए विवाद में पुलिस दलित संगठनों के दवाब में काम कर रही है और जानबूझकर गांव के छह युवाओं को एससी-एसटी एक्ट में फंसाया गया। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद दीपक गौड आज गांव महावतपुर में पीडित सवर्ण परिवार व गांव की सरदारी से मिलने पहुंचे। गांव के लोगों ने बताया कि गांव में किसी की वाईपास सर्जरी हुई थी, जिसको लेकर सिर्फ डीजे की आवाज कम करने की बात हुई थी, लेकिन दूसरी पार्टी वाले हरिजन एक्ट के बेजां स्तेमाल करते हुए सर्वण के युवाओं पर झूठे मुकदमें दर्ज करा दिए, जिसमें एक युवा संदीप को गिरफ्तार करके नीमका जेल भेजा गया है।

गौरतलब है कि गौड एससी-एसटी एक्ट संसोधन के विरोध में खुद दो महीने तिहाड जेल में काट कर आए और अब दिल्ली हाई कोर्ट से जमानत पर चल रहे हैं और फरीदाबाद लोकसभा से दो बार सांसद का चुनाव भी लड चुके। दीपक गौड़ ने कहा है कि कुछ जातिवादी संगठन सर्वणों के खिलाफ साजिस रच रहे हैं, एससी-एसटी एक्ट को रोजगार का धंधा बना लिया है, इसकी आड़ में ब्लैकमेलिंग का कारोबार तक हो रहा है, लेकिन वोट बैंक के लालच में सरकार इस पर कोई संज्ञान नहीं ले रही हैं, पुलिसिया कार्यवाही देखकर लग रहा है जैसे कानून सिर्फ जाति विषेष के लोगों के लिए बने हैं पूरे गांव की बात नहीं सुनी जा रही न कोई सच्चाई जानने की कोषिष करता, जिस तरफ उंगली उठ जाती है, पुलिसिया कार्यवाही षुरू हो जाती है। दीपक गौड़ के साथ आज क्षत्रिय महासभा के प्रदेष उपाध्यक्ष ठाकुर दीपू चैहान, परषुराम आर्मी से मनीष कौषिक, भारत भूषण अत्री संजय सहाय व वेदी प्रधान सहित सर्वण समाज के कई संगठनों के मौजिज लोग मौजूद थे।

Print Friendly, PDF & Email