स्कूल बनाकर भूला शिक्षा विभाग, 5 साल से बच्चे परेशान

0
29

Faridabad/Alive News : यूं तो देशभर में स्कूलों की कमी है लेकिन फरीदाबाद इससे अलग है। यहां शिक्षा विभाग स्कूल बनाकर ही भूल जाता है। दरअसल, सेक्टर-91 सूर्या नगर फेज वन में शिक्षा विभाग ने 5 साल पहले प्राइमरी स्कूल की इमारत बनाई थी, लेकिन इस स्कूल में आज तक एक भी ऐडमिशन नहीं किया गया। अब स्कूल में एक व्यक्ति अपने परिवार के साथ रह रहा है, जो अपने आप को चौकीदार बताता है। अधिकारियों को इस बारे में कोई जानकारी भी नहीं है। अफसरों की लापरवाही के चलते यहां के बच्चों को पढ़ने के लिए दो या तीन किलोमीटर दूर गांव तिलपत और गांव सेतपुर के सीनियर सेकंडरी स्कूल में जाना पड़ता है।

बिल्डिंग से गिरने लगा है प्लास्टर
यह स्कूल अब असामाजिक तत्वों का अड्डा बन गया है। शिक्षा विभाग के कानों में 4 साल पहले जब यह आवाज पहुंची तो स्कूल में चौकीदार का इंतजाम किया गया। चौकीदार दो कमरों में अपने परिवार के साथ रह रहा है। रसोई व शौचालयों से प्लास्टर गिरने लगा है। अब प्रश्न यह उठता है कि आज तक स्कूल को क्यों नहीं चलाया गया। अगर स्कूल नहीं चलाना था तो बिल्डिंग बनाई क्यों। इन सभी सवालों का शिक्षा अधिकारियों के पास कोई जवाब नहीं है।

उन्हें तो यह भी नहीं पता कि सूर्या नगर फेज वन में कोई बिल्डिंग भी है। जबकि अनशनकारी बाबा रामकेवल इस स्कूल को स्टार्ट कराने के लिए अधिकारियों से मिले, पर नतीजा जीरो रहा। नाम न छापने पर एक टीचर ने बताया कि इस स्कूल को स्टार्ट करने के लिए शिक्षा अधिकारियों को कई बार पत्र लिखे, लेकिन कुछ नहीं हुआ। टीचर का कहना है कि मैंने ही सूर्या नगर के स्कूल की देखभाल के लिए चौकीदार रखा है। चौकीदार नहीं रखते तो कमरों की चौखट व दरवाजे चोरी हो जाते।

अफसरों को खबर ही नहीं:
– मुझे इस प्राइमरी स्कूल की बिल्डिंग के बारे में जानकारी नहीं है। मैं इसकी जांच करा लेती हूं। – शशि अहलावत, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी

– मैंने तो कुछ ही दिन पहले ही कार्यभार संभाला है। मैं इस स्कूल को शुरू कराने के लिए प्रयास करूंगी। – अनिता शर्मा, जिला प्रॉजेक्ट ऑफिसर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here