श्री ब्राह्मण सभा ने कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा को किया सम्मानित

0
13

Faridabad/Alive News: अपने 30 वर्ष से अधिक के राजनीतिक जीवन में मैने अपने कर्तव्यों को पूरा करने की ओर ध्यान दिया है। इस पूरे राजनीतिक सफर में लोगों से जुड़ाव लगातार बढ़ा है”। ये शब्द हैं हरियाणा कैबिनेट में स्थान पाकर फरीदाबाद का गौरव बढ़ाने वाले मूलचंद शर्मा के। मूलचंद शर्मा श्री ब्राह्मण सभा(पंजीकृत), सैक्टर 7 फरीदाबाद द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में बोल रहे थे । कार्यक्रम का आयोजन श्री ब्राह्मण सभा द्वारा संचालित नालंदा विद्यालय सैक्टर 7डी शाखा में आयोजित किया गया था।

मूलचंद शर्मा ने कहा कि सैक्टर 7 से उनका जुड़ाव बचपन से ही है। उनकी प्राथमिक शिक्षा भी यहीं से हुई। उन्होने बताया कि इस ब्राह्मण सभा के प्रधान वी के शर्मा उनके गुरु रहे हैं और हमेशा रहेंगे। मूलचंद ने कहा कि उनको अपने क्षेत्र विकास के लिये जो अनुदान सरकार की तरफ से मिलता है, ऐसा नहीं है कि वो केवल बल्लबगढ़ के लिये प्रयोग किया जायेगा । यह राशि बौर्डर से बौर्डर के विकास के लिये खर्च की जायेगी। उन्होनें आगे कहा कि पहली बार विधायक बनना असान है लेकिन दूसरी बार चुनाव में हर वोटर पिछ्ले पांच साल का रिपोर्ट कार्ड देखता है। इसी लिये राजनीति मे लगातार सेवा को ही धर्म मान लेना चाहिए ।

संस्था के प्रधान वी के शर्मा ने कहा कि व्यक्ति के विकास की दिशा का प्रमाण स्वयं मूलचंद जी हैं जिन्होने एक व्यक्ति से एक व्यक्तित्व बनने का सफर सफलतापूर्वक किया है । उन्होनें कहा कि एक गुरु होने के नाते मुझे गौरवान्वित करने के लिये मैं मूलचंद जी को धन्यवाद देता हूं।

इसके पहले श्री ब्राह्मण सभा सैक्टर 7 की वार्षिक बैठक का आयोजन किया गया । इसमें जहाँ जी आर शर्मा, सचिव ने पूरे वर्ष में आयोजित किये गये कार्यक्रमों का वर्णन किया वहीं कोषाध्यक्ष सुभाष शर्मा ने विद्यालयकी दोनों शाखाओं के वित्तीय लेखा जोखा पेश किया। उप प्रधान सुरेश शर्मा ने पिछ्ले वित्तीय वर्ष के दौरान किये गये आमदनीऔर खर्चे का हिसाब सदस्यों के समक्ष रखा।

विद्यालय प्रबंधक पीके शारदा ने दोनो शाखाओं में नए ऐडमिशन, विद्यालय के आधारभूत आवश्यकता के अनुसार विकास, पिछ्ले वर्षों की तुल्ना में रिजल्ट में हुई बढत आदि के विषय में सदस्यों को अवगत कराया ।

इस अवसर पर संस्था के पदाधिकारियों मे पैट्रोन पीसी मस्ता, एस के दीक्षित, आर पी कौशिक, सुशील कौशिक और संजय चतुर्वेदी के अलावा ब्रिजमोहन बाशित, बृजलाल शर्मा, जीवन लाल शर्मा, योगेश शर्मा, गिरीश शर्मा, यशपाल दत्त, घनश्याम शर्मा, जे पी शर्मा, ओ पी कौशिक, एम पी शर्मा, विक्रम शर्मा, राजेश शर्मा, एम एल बर्मी, नंद किशोर, मुन्शी राम, प्रणव मैत्रा, बी एम शर्मा और महेंद्र शर्मा आदि उपस्थित रहे । विद्यालय के प्रिंसिपल के सी शर्मा और हैड मिस्त्रेस् ब्रजेश सिंह भी उपस्थित रहीं ।

Print Friendly, PDF & Email