मरम्मत की बाट ज़ोह रहीं स्मार्टसिटी की सड़कें

0
77
File Photo
Sponsored Advertisement

Nibha Rajak/Alive News
Faridabad : पूरे देश में सर्दी अपने चरम सीमा पर है। हाड कंपाने वाली सर्द हवाएं अभी चल ही रही थी कि कोहरे ने शहर को अपने आगोश में ले लिया। घने कोहरे के कारण दृश्यता शून्य पर आ गयी है। सुबह 10 बजे तक भी कुछ साफ़ दिखाई नहीं देता। ऐसे में शहर की सड़के आमजन के गले की फ़ांस बनी हुई है। शहर की टूटी हुई सड़के दुर्घटनाओं को न्यौता देती हुई नजर आ रही है। मौसम विभाग के अनुसार आगामी दिनों में कड़ाके की सर्दी पड़ने की सम्भावना है।

दरअसल, स्मार्ट सिटी का तग्मा प्राप्त कर चुके फरीदाबाद की स्मार्टनेस की बात करें तो हमारे जहन में टूटी हुई सड़के ही आती है। शहर की सड़कों की बात की जाए तो हार्डवेयर से प्याली को जाने वाली सड़क, बाटा मेट्रो स्टेशन से लघुसचिवालय को जाने वाली सड़क, या फिर बाटा से मुजेसर जाने वाली सड़क हो इन सब में एक से डेढ़ फुट के गड्ढे है। ये सड़क नगर निगम की नाकामयाबी को दर्शाते है। ये वो सड़के है जिनका आवागमन के लिए वरिष्ठ से कनिष्ठ अधिकारी इस्तेमाल करते है लेकिन किसी का भी ध्यान सड़क की मरम्मत की तरफ नहीं जाता है।

आए दिन देते है दुर्घटनाओं को न्यौता
इन टूटी सड़कों से गुजरते हुए चालक और सवारी एक तरह से अपनी जान हथेली पर लेकर चलते है। गत वर्षों की बात करें तो इन सड़को पर अनगिनत हादसे हुए है। लेकिन नगर निगम के अधिकारियों के कानों पर जूं नहीं रेंग रही है।

Print Friendly, PDF & Email
Sponsored Advertisement