Palwal/Alive News : सुपर विलेज चैलेंज प्रतियोगिता-2 को लेकर लघु सचिवालय के द्वितीय तल पर स्थित सभागार में शनिवार को जिला पलवल के लगभग 51 गांवों के सरपंच व विश्व इनक्लेन ट्रस्ट के पदाधिकारियों के साथ उपायुक्त मनीराम शर्मा की अध्यक्षता में एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी ए.सी. कौशिक व मुख्यमंत्री के सुशासन सहयोगी अभिनव वत्स मुख्य रूप से मौजूद थे।

उपायुक्त मनीराम शर्मा ने बैठक में उपस्थित सरपंचों को बताया कि गत सुपर विलेज चैलेंज प्रतियोगिता में शामिल होने वाले गावों में समूचित विकास कार्य करवाए गए। उन्होंने बताया कि सुपर विलेज चैलेज प्रतियोगिता अपने तरीके की देश में एक पहली अनूठी पहल थी। उन्होंने कहा कि यह प्रतियोगिता 27 नवंबर को लांच हुई और इसी से संबंधित तर्ज पर 26 जनवरी 2018 को पूरे प्रदेश में माननीय मु यमंत्री मनोहर लाल ने 7 स्टार विलेज योजना लांच की, जिसमें भी ग्राम पंचायतों को विभिन्न मापदंडों पर ग्रेड दिए गए।

सुपर विलेज चैलेंज प्रतियोगिता 15 फरवरी 2018 तक चली। उन्होंने कहा कि जिला की सभी पंचायतों ने उक्त प्रतियोगिता में भाग लेकर उत्साह दिखाया, जिसके परिणाम स्वरूप सुपर विलेज चैलेंज प्रतियोगिता की गूंज विदेशों में भी गंूजी। इस प्रतियोगिता का अध्ययन करने के लिए अमेरिका की ओहियों व बर्कले यूनिवर्सिटी के विद्यार्थी व प्रोफेसर की टीम उपायुक्त निवास पर आई और उक्त प्रतियोगिता में भागीदारी निभा रहे सुपर सरपंचों के साथ अपने विचार सांझा किए। उपायुक्त ने कहा कि इस प्रतियोगिता का उद्देश्य एक चुनौतीपूर्ण ढांचे में ग्राम सरपंचों को विकास के विभिन्न मापदंडों को पाने के लिए प्रोत्साहित करना था।

उन्होंने कहा कि सुपर विलेज चैलेंज प्रतियोगिता-2 में स्वास्थ्य तथा शिक्षा पर फोकस रहेगा। विश्व इनक्लेन ट्रस्ट के पदाधिकारी गांवों में जाकर लोगों को जागरूक करेंगे तथा प्रशासन व सरपंचों को अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करेंगे, जिससे कि उक्त प्रतियोगिता में दिए गए मापदंडो को पूर्ण रूप से सफल बनाया जा सके।

उन्होंने उपस्थित सभी सरपंचों से आह्वान किया कि वे अपने-अपने गांवों में लेबर का कार्य जैसें-कारपेंटर, चिनाई मिस्त्री, बिजली कारीगर, प्लंबर आदि लेबर का कार्य करने वाले कारीगरों का हरियाणा भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड श्रम विभाग में पंजीकरण करवाएं ताकि हरियाणा सरकार द्वारा श्रमिकों के लिए चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं का श्रमिक भरपूर लाभ उठा सकें।

इस अवसर पर उपायुक्त मनीराम शर्मा ने बताया कि हरियाणा में 7 स्टार विलेज प्रतियोगिता में उच्चतम तीन पंचायतों को ही 6 स्टार प्राप्त हुए। यह तीनों 6 स्टार जिला पलवल की पंचायतों ने ही प्राप्त किए और 5 स्टार प्राप्त करने वाली ज्यादातर पंचायतें भी पलवल की ही रहीं।

परिणाम स्वरूप उक्त मॉडल का राज्य स्तर पर ही नहीं अपितु राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी नाम विख्यात हुआ। उपायुक्त ने स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत स्वर्ण जयंती स्वच्छता पुरस्कार के रूप में 11 पंचायतों को एक-एक लाख रुपये की राशि के चैक वितरित किए, जिनमें ग्राम पंचायत फाटस्को नगर, बाडका, अच्छेजा, लालवा, गुलावद, रहराना, करीमपुर, फुलवाडी, सैलोटी, बहरोला, बामनीखेडा शामिल हैं।

मुख्यमंत्री के सुशासन सहयोगी अभिनव वत्स ने कहा कि अब इस सुपर विलेज चैलेंज प्रतियोगिता-2 में जिला की सभी पंचायतों को शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस प्रतियोगिता में भी सुपर विलेज चैंलेंज की तरह ही हर मापदंड के अपने लक्ष्य होंगे जिनकों पाने पर हर गांव को अंक दिए जाएंगे। टॉप गांव को सभी मापदंडों में योग्यता साबित करना अनिवार्य है। सरपंचों को अपने गांव का लॉगइन आईडी और पास वर्ड भी प्रदान किया जाएगा।

इस अवसर पर सिविल सर्जन डा. प्रदीप शर्मा, पलवल के खंड शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल, हथीन के खंड शिक्षा अधिकारी यशपाल गर्ग, हसनपुर की खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी श्रीमती उपमा अरोड़ा, होडल के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डा. चरण सिंह, सहायक परियोजना अधिकारी नवीन, विश्व इनक्लेन ट्रस्ट ब्रिगेडियर वी.के. पांडे, डा. संजीव कुमार, सोमार्थ के राकेश कुमार सिंह, विश्व इनक्लेन ट्रस्ट डा. दिव्या नायर, श्रम विभाग सहित स्वास्थ्य विभाग तथा विश्व स्वास्थ्य संगठन तथा विभिन्न गांवों के सरपंच मौजूद रहें।

बैठक में विभिन्न गांवों के सरपंचों ने गत सुपर विलेज चैलेंज प्रतियोगिता के बारे में अपने अनुभव सभी के साथ सांझा किए। उन्होंने उपायुक्त को आगामी सुपर विलेज चैलेंज प्रतियोगिता-2 में सम्मलित किए जाने वाले स्वास्थ्य और शिक्षा जैसे मापदंडों पर भी खरा उतरने का आश्वासन भी दिया। इस मौके पर उपायुक्त ने बैठक में मौजूद सभी सरपंचों को पौधा रोपण अभियान के तहत एक-एक पौधा देकर आह्वान किया कि अपने-अपने गांवों में लोगों को पौधा लगाने के लिए जागरूक करें कि सभी ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here