देश में मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 67 हजार के पार, 2206 लोगो की मौत

0
11

New Delhi/Alive News : देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 67 हजार को पार कर गया है. बीते 24 घंटे में 4 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं और करीब 100 लोगों की मौत हुई है. ताजा अपडेट के मुताबिक, कुल कंफर्म केस की संख्या 67 हजार 152 हो गई है, जिसमें 2 हजार 206 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 20 हजार 917 लोग ठीक हो चुके हैं. एक्टिव केस की संख्या 44 हजार 29 है.

कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित महाराष्ट्र है. यहां अब तक 22 हजार 171 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें 832 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 4199 लोग ठीक हो चुके हैं. महाराष्ट्र के बाद गुजरात में तेजी से संक्रमण बढ़ रहा है. यहां अब तक 8 हजार 194 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें 493 लोगों की मौत हो चुकी है.

तीसरे नंबर पर तमिलनाडु आ गया है. यहां अब तक 7204 केस की पुष्टि हुई है, जिसमें 47 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, दिल्ली में कोरोना मरीजों का आंकड़ा करीब 7 हजार पहुंच गया है. यहां अब तक 6923 मामले आए हैं, जिसमें 73 की मौत हुई है. इसके बाद राजस्थान में अब तक 3814 कंफर्म केस सामने आ चुके हैं, जिसमें 107 लोगों की मौत हो चुकी.

वहीं, मध्य प्रदेश में अब तक 3614 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें 215 लोगों की मौत हो चुकी है. उत्तर प्रदेश में भी कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है. अब यहां मरीजों की संख्या 3467 हो गई है, जिसमें 74 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

आंध्र प्रदेश में अब तक 1980 मामले (45 की मौत), अंडमान निकोबार में 33 मामले, अरुणाचल प्रदेश में एक मामला, असम में 63 मामले (2 की मौत), बिहार में 696 मामले (6 की मौत), चंडीगढ़ में 169 मामले, छत्तीसगढ़ में 59 मामले, गोवा में 7 मामले, हरियाणा में 703 मामले (10 की मौत) और हिमाचल प्रदेश में 55 मामले (2 की मौत) आ चुके हैं.

इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में 861 मामले (9 की मौत), झारखंड में 157 मामले (3 की मौत), कर्नाटक में 848 मामले (31 की मौत), केरल में 512 मामले (4 की मौत), लद्दाख में 42 मामले, मणिपुर में 2 मामले, मेघालय में 13 मामले (एक की मौत), मिजोरम में एक मामला और ओडिशा में 377 मामले (3 की मौत) सामने आए हैं.

पुदुचेरी में 9 मामले, पंजाब में 1823 मामले (31 की मौत), तेलंगाना में 1196 मामले (30 की मौत), त्रिपुरा में 150 मामले, उत्तराखंड में 68 मामले, पश्चिम बंगाल में 1939 मामले (185 की मौत) सामने आए हैं.

Print Friendly, PDF & Email