उपायुक्त के आदेश, सरकारी जमीन से अतिक्रमण को जल्द हटाया जाए

0
29
Sponsored Advertisement

Faridabad/Alive News: उपायुक्त यशपाल ने कहा कि शहर की सभी सड़कों व सरकारी जमीन से अतिक्रमण को जल्द हटाया जाए तथा जो व्यक्ति सरकारी जमीन पर अतिक्रमण किए हुए है, उससे नियमानुसार जमीन की मार्केट वैल्यू के अनुसार वार्षिक 6 प्रतिशत की दर से किराया वसूल किया जाए। इसी प्रकार ठोस कचरा प्रबंधन के लिए भी ठोस कदम उठाए जाएं तथा साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए।

उपायुक्त मंगलवार को लघु सचिवालय के सभागार में जिला अधिकारी बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने बैठक में विभिन्न विभागों से संबंधित योजनाओं व कार्यक्रमों की प्रगति की समीक्षा की। उपायुक्त ने कहा कि शहर में कूड़ा प्रबंधन पर पर विशेष ध्यान दिया जाए। दिन में एक बार हर जगह से कूड़ा का कलैक्शन होना चाहिए। इस कार्य को एक अभियान के रूप में चलाया जाए। वार्ड वाइज एक व्यक्ति की डयूटी लगाई जाए।

लोगों को भी साफ-सफाई व कूड़े का उचित प्रबंधन के लिए जागरूक किया जाए। उन्होंने बताया कि नगर निगम, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, एचएसआईआईडीसी की जमीन पर व शहर के विभिन्न मार्गों के किनारे पर अतिक्रमण को तुरंत हटाया जाए और अतिक्रमण करने वालों से नियमानुसार किराया वसूल किया जाए। पुलिस विभाग के अधिकारी भी अपने एरिया में अतिक्रमण की गतिविधियों पर नजर रखें तथा कोई भी सूचना मिलने पर तुरंत कार्यवाही अमल में लाएं।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 की परिस्थितियों में सभी विभागों व अधिकारियों की ओर से अच्छा कार्य किया गया है। सभी ने टीम वर्क के रूप में कार्य किया है, लेकिन कोरोना के प्रति अभी लापरवाह नहीं होना है। जो लोग कहते हैं कि कोरोना कुछ नहीं है, ऐसी मानसिकता को छोड़कर इसके प्रति जागरूक रहें और सभी जरूरी सावधानियां अवश्य बरतें।

सरकार व जिला प्रशासन की ओर से समय-समय पर सभी एस.ओ.पी. जारी की गई हैं। सभी अधिकारी इनकी अनुपालना स्वयं भी सुनिश्चित करें और अन्य लोगों को भी जागरूक रहने बारे प्रेरित करें। मास्क का उपयोग अवश्य करें तथा हाथ सैनीटाईज करने की आदत को बनाए रखें। इस वायरस का खांसते, छींकते व बोलते समय फैलने पर अधिक खतरा रहता है, इसलिए हर समय मास्क का प्रयोग करें।

इस अवसर पर उन्होंने सरल, सीएम विंडो, एसएमजीटी, सीपीग्राम के तहत हुए कार्यों की समीक्षा की तथा लंबित कार्यों को पूरा करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि एसडीएम अपने स्तर पर भी इनसे लंबित शिकायतों का निवारण सुनिश्चित करवाएं। इस अवसर पर उन्होंने अतिरिक्त उपायुक्त कार्यालय से संबंधित सीएम घोषणाएं, परिवार पहचान पत्र, बीपीएल सर्वे जैसे कार्यों की प्रगति के बारे में जानकारी ली और इन कार्यों को तय समय पर पूरा करवाने के निर्देश दिए। इसी प्रकार कृषि विभाग की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, मेरी फसल-मेरा ब्यौरा व किसान सम्मान निधि जैसी योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की।

इस बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान, एसडीएम बल्लबगढ़ अपराजिता, एसडीएम फरीदाबाद जितेंद्र कुमार, एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया, नगराधीश व जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी राकेश मोर, सिविल सर्जन डॉ. आर.एस. पुनिया सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Print Friendly, PDF & Email