बालाजी कॉलेज में दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन

0
28

Faridabad/Alive News : फरीदाबाद की बडखल झील व सूरजकुंड अपने पुर्नजीवन को प्राप्त कर सकें इस पर बालाजी श्क्षिण महाविद्यालय बल्लभगढ़ में आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन एवं सामाजिक कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर में मंथन होगा।

बालाजी कालेज के प्रबंधक डा. जगदीश चौधरी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि 23 व 24 जून को जल एंव शांति विषय पर आयोजित इस आयोजन में नोबेल पुरूस्कार स्टोकहोम विजेता एंव रेमन मेगसेसाय पुरूस्कार से स ाानित जल पुरूष डा. राजेन्द्र सिह,वाई.एमसी.ए. यूनिर्वसिटी के कुलपति प्रो. दिनेश कुमार,बीएम यूनिवर्सिटी रोहतक से प्रो. मार्कण्डेय आहूजा, आई आईएम के पूर्व कुलपति हारवर्ड यूनिवर्सिटी बोस्टन के प्रोफेसर अशोक कुमार, पर्यावरणविद एवं हमारी धरती पत्रिका के संपादक सुबोध नंदन शर्मा, गांधीवादी चिंतक रमेश शर्मा,वाईएमसीए यूनिर्वसिटी कुलसचिव डा. संजय शर्मा,सी आर एस यूनिर्वसिटी जींद के डा. एस के सिन्हा,यू एन के मीडिया सलाहकार दीपक पर्वतीया,शिक्षाविद प्रोफेसर अरविंद गुप्ता,एन सी टी ई के पूर्व अध्यक्ष प्रो. संतोष पांडा,एनसीईटीई के पूर्व उपाध्यक्ष प्रो.सोहनवीर चौधरी,एन आई ओ एस के अध्यक्ष प्रो. सी.बी.शर्मा,एनआई डी एम गृह मंत्रालय भारत सरकार के प्रो.चन्दन घोष,पर्यावरणविद ज्ञानेन्द्र रावत,संजय सिह आदि शामिल होंगे।

जगदीश चौधरी ने कहा कि आज जल संकट भारत के 25 बडे शहरों में स्पष्ट दिखाई दे रहा है। इस सूची में फरीदाबाद,गुडगांव, दिल्ली,शिमला, बेंगलूरू,आदि शहर शामिल है। इस बिन्दु को ध्यान में रखते हुए जल संकट एंव पृथ्वी के बुखार से निजात पाने हेतू मलेरना रोड बल्लभगढ़ स्थित बालाजी महाविद्यालय में राष्ट्रीय अधिवेशन एंव सामाजिक कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर में जल एंव वायु से संबंधित समस्याओं को समझने, उनका कारण जानने एंव निवारण हेतू रणनीति तैयार की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here