जब तक पानी नही मिलेगा, इनैलो व बसपा का संघर्ष जारी रहेगा : अरोड़ा

0
16

Gurugram/Alive News : जब तक हरियाणा की जनता को सतलुज यमुना लिंक नहर का पानी नहीं मिलता तब तक इनैलो व बसपा का संघर्ष जारी रहेगा। उक्त शब्द इंडियन नैशनल लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने गुडग़ांव के राज नगर, राजेन्द्रा पार्क व देवीलाल नगर में आयोजित जन सभाओं को सम्बोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि हरियाणा व पंजाब के बंटवारे के समय से ही हरियाणा के हिस्से का पानी प्रदेश की जनता को नहीं मिल रहा, जिसको लेकर इंडियन नैशनल लोदकल लगातार संघर्षरत है।

एसवाईएल के निर्माण के लिए सबसे पहले हरियाणा के निर्माता व तत्कालीन मुख्यमंत्री जननायक चौ. देवीलाल ने हरियाणा सरकार की तरफ से पंजाब सरकार को उनके किसानों की भूमि अधिग्रहण कर नहर खोदने के लिए मुआवजा राशि का भुगतान किया था परन्तु पंजाब की तरफ से बार बार इसमें अड़चने लगाई गई।

अरोड़ा ने कहा कि सन् 2002 में माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा हरियाणा के हक में फैसला दिया जाना तत्कालीन मुख्यमं़त्री चौ. ओमप्रकाश चौटाला की सरकार की नहर को लेकर एक मुख्य उपलब्धि थी परन्तु उस वक्त पंजाब की तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने पंजाब विधानसभा में सभी जल समझौतों को रद्द कर एस0वाई0एल0 के निर्माण में एक नई बाधा उत्पन्न कर दी।

उन्होनें कहा कि एक बार फिर लगभग 2 वर्ष पूर्व माननीय सर्वोच्च न्यायालय की संवैधानिक पीठ ने हरियाणा की मांग को जायज ठहराते हुए पंजाब व केन्द्र की सरकार को नहर खुदवाने के निर्देष दिये परन्तु हरियाणा प्रदेश की कमजोर सरकार व दब्बू मुख्यमंत्री के ढुलमुल रवैये की वजह से पानी मिलना तो दूर इस विषय पर 2 साल बीत जाने के उपरान्त प्रधानमंत्री से मिलने का समय तक नहीं ले पाये।

इस अवसर पर पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचन्द गहलोत, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनन्तराम तंवर, बसपा प्रभारी नेतराम एडवोकेट, प्रताप कदम, रमेश दहिया, शमशेर कटारिया, शैलेष खटाणा चेयरमैन, रिषीराज राणा, मानसिंह चेयरमैन, अतर सिंह रूहिल, महेन्द्र सेन, संजीव बेदी, रविन्द्र तंवर, कमल एडवोकेट, कर्मबीर सरपंच, रामे प्रधान, रामपाल सिंह शेखावत, रघुबीर दहिया, भूपेन्द्र सुखराली, दिनेश अग्रवाल, कपिल त्यागी, नरेश कटारिया, सुरेन्द्र चौधरी, पवन कुमार, राम निवास शर्मा, कृष्ण गाड़ौली, महेश पार्षद, राजेश डागर, संजय यादव, विक्रम छौक्कर, रविन्द्र सिंगरोहा, पवन धनकोट सहित सैंकड़ों पदाधिकारी एंव कार्यकर्ता उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here