विद्यासागर स्कूल ने बच्चों को दी 7 लाख की स्कॉलरशिप

0
36

Faridabad/Alive News : विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल, सेक्टर-2 में ग्रेजुएशन डे धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर बच्चों को स्कूल की ओर से 7 लाख से अधिक की स्कॉलरशिप दी गई। जिन बच्चों को स्कॉलरशिप दी गई उसमें इश्वी, अरवी, शिवान, राघव, अयान, प्रशांत, कनिष्क, आशी, सात्विक, आदित्य, हिमांक, भव्य, सोना व अन्य बच्चे शामिल थे। कक्षा 4 एवं 5 के छात्रों ने सुंदर सरस्वती वंदना प्रस्तुत की।

कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि के रूप प्रख्यात कवि दिनेश रघुवंशी एवं स्कूल के चेयरमैन धर्मपाल यादव ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रघुवंशी ने स्कॉलरशिप मिलने वाले बच्चों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि स्कॉलरशिप देने का स्कूल प्रशासन का यह प्रयास सराहनीय है और इससे बच्चों को मोटीवेशन मिलेगा जिससे वे और मेहनत और लगन से पढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि शिक्षा अपने चारों ओर की चीजों को सीखने की एक प्रक्रिया है। यह हमें किसी भी वस्तु या परिस्थिति को आसानी से समझने, किसी भी तरह की समस्या से निपटने और पूरे जीवनभर विभिन्न आयामों में सन्तुलन बनाए रखने में मदद करती है।

शिक्षा सभी मनुष्यों का सबसे पहला और सबसे आवश्यक अधिकार है। बिना शिक्षा के हम अधूरे हैं, और हमारा जीवन बेकार है। इसलिए यह आसानी से समझा जा सकता है विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल जो शिक्षा की अलख जगा रहा है वह समाज के लिए कितना महत्त्पूर्ण है। रघुवंशी ने कहा कि उन्हें स्कूल के ग्रेजुएशन डे में शामिल होकर काफी खुशी हुई है और जैसा कि यह स्कूल का फोर्थ ग्रेजुएशन डे है तो उनकी यह कामना है कि स्कूल यूं ही आगे बढ़ता रहे और शिक्षा का प्रसार करता रहे। इस अवसर पर स्कूल के चेयरमैन धर्मपाल यादव ने कहा कि उनका हमेशा से ही प्रयास रहा है कि जीवन में सफलता, सम्मान और पहचान प्राप्त करने के लिए, शिक्षा सभी के लिए आवश्यक यंत्र है।

शिक्षा सभी के जीवन में महान भूमिका निभाती है क्योंकि यह मनुष्य के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव लाती है। यह निश्चिन्तता प्राप्त करने और परिस्थितियों का समाना करने के लिए सकारात्मक और नकारात्मक दोनों आयामों पर सोचने की क्षमता प्रदान करती है। कार्यक्रम को बच्चों ने सुंदर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करके मनमोहक बना दिया। इस अवसर बच्चों के अभिभावकों के अतिरिक्त अनेक गणमान्य लोग उपस्थित रहे। कार्यक्रम को स्कूल की डॉयरेक्टर सुनीता यादव एवं प्रिंसिपल ज्योति चौधरी ने भी संबोधित किया।

Print Friendly, PDF & Email