जब अधिकारियों की ही इकोग्रीन में सुनवाई नहीं तो आम जनता का क्या…

0
37
Sponsored Advertisement

Faridabad/Alive News: नगर निगम के विभागों का आपस में तालमेल न होना कोई नई बात नहीं है। आए दिन नगर निगम विभाग के आपस में टकराव होने की खबरें सुर्ख़ियों में बनी रहती है। ऐसा ही एक मामला मुजेसर से सामने आया है, जहां इकोग्रीन इंचार्ज और सफाई इंचार्ज के बीच सामजंस्य की कमी से लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

दरअसल, मुजेसर वार्ड- 2 में डिस्पेंसरी, सब्जी मार्किट और सरकारी स्कूल के सामने कूड़े का ढेर लगा हुआ है। नगर निगम में शिकायत के बावजूद भी निगम द्वारा कोई विशेष कार्यवाही ना करते हुए केवल खानापूर्ति कर दी जाती है। आपको बता दे कि सब्जी मार्किट में छोटी- बड़ी लगभग 50 दुकानें है। ये तीनों जगह ऐसी है जहां से रोज हजारो की संख्या में लोग गुजरते है और इस गन्दगी से दो- चार होते है।

क्या कहना है सफाई इंचार्ज का
मैंने इको ग्रीन के इंचार्ज कुशाल पांडेय से कई बार शिकायत की है लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती।
– जयपाल हंस, सफाई इंचार्ज, मुजेसर

 

 

Print Friendly, PDF & Email