कोरोना वायरस के मद्देनजर WHO ने बुलाई आपात बैठक

0
106

New Delhi/Alive News: कोरोना वायरस का कहर दुनिया भर में जारी है. चीन से शुरू होने के बाद दुनिया के कई देशों में लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो रहे हैं. चीन का वुहान शहर कोरोना का केंद्र बना हुआ है. कोरोना से चीन में अब तक 170 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 6000 से ज्यादा लोग संक्रमित हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने दुनिया के सभी देशों की सरकारों से अपील की है कि वे इसे रोकने के लिए तत्काल कार्रवाई करें.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस के दुनिया भर में बढ़ते संक्रमण को लेकर बुधवार को एक आपात बैठक बुलाई. बैठक में इस बात पर चर्चा की गई कि क्या कोरोना को लेकर वर्ल्ड हेल्थ इमरजेंसी घोषित की जाय. कोरोना वायरस का कहर चीन से शुरू हुआ था. न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक चीन में अब तक इससे 170 लोगों की मौत हो चुकी है और करीब 6000 लोग कोरोना वायरस से प्रभावित हैं. चीन में कोरोना के 1000 नए केस सामने आए हैं. चीन में युद्ध स्तर पर इससे बचाव के लिए उपाय किए जा रहे हैं. कई प्रमुख शहरों में लोगों को बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.

चीन का वुहान शहर कोरोना का केंद्र बना हुआ है, जबकि कई दूसरे शहर भी इससे प्रभावित हैं. चीन में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए दुनिया के कई देशों ने वहां रह रहे नागरिकों को एयरलिफ्ट करना शुरू कर दिया है. जबकि कई देशों ने चीन के लिए उड़ानें रद्द कर दी हैं. अमेरिका और ब्रिटेन समेत कई देशों ने अपने नागरिकों को जबतक बहुत जरूरी ना हो चीन ना जाने की सलाह दी है.

अमेरिकी ने बुधवार को चीन में रह रहे 210 लोगों को अपने चार्टर्ड प्लेन से एयरलिफ्ट किया. इन्हें चीन से निकाल कर कैलिफोर्निया लाया गया. इसमें अमेरिकी कॉन्सुलेट्स भी शामिल हैं. जबकि जापान के 206 नागरिक अपने देश लौट चुके हैं. इनमें 12 को संदिग्ध मानते हुए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अमेरिका, ब्रिटेन और जापान ने अपने नागरिकों को चीन न जाने की हिदायत दी है.

दुनिया के 18 देशों में कोरोना का कहर जारी है. इसे देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक आपात बैठक बुलाकर इस पर चर्चा की कि क्या कोरोना को लेकर वर्ल्ड हेल्थ इमरजेंसी घोषित की जाए. जेनेवा में WHO के डायरेक्टर जनरल Tedros Adhanom Ghebreyesus ने कहा, ”पिछले सप्ताह दुनिया भर से कोरोना को लेकर जो रिपोर्ट मिली है वह बेहद खतरनाक है. हमने इसे लेकर इंटरनेशनल हेल्थ रेगुलेशन इमरजेंसी कमेटी बनाने का फैसला किया है.’

विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख माइकल रायन ने कहा, ‘कोरोना को लेकर पूरी दुनिया को अलर्ट होने की जरूरत है. वर्ल्ड स्वास्थ्य इमरजेंसी घोषित करने पर दुनिया भर में इससे मुकाबले के लिए लड़ाई आसान हो जाएगी. इससे दुनिया के 194 देश एक साथ कोरोना से मुकाबला कर सकेंगे.’ इस समय दुनिया के 18 देश कोरोना से प्रभावित हैं. वहां चीन से आए संदिग्धों को अस्पताल में भर्ती कर जांच की जा रही है.

Print Friendly, PDF & Email