‘एफएलसीसी द्वारा’ आयोजित संगीतमय शाम में झूमे शहरवासी

0
30

Faridabad/Alive News : फरीदाबाद साहित्यिक व सांस्कृतिक केंद्र (एफएलसीसी ) द्वारा आयोजित सुर सम्राट स्व. मोहम्मद रफ़ी की याद में आयोजित संध्या में शहर के लोगों ने खूब लुत्फ़ उठाया। कार्यक्रम में आये हर व्यक्ति के लिए ये शाम यादगार शाम बन गयी।

लम्बे अरसे के बाद इस उद्योगिक नगरी में इस तरह का कार्यक्रम आयोजित किया गया , जिसे वहां उपस्थित हर व्यक्ति ने खूब सराहा। काय्र्रक्रम के मुख्यातिथि केंद्रीय राज्य मंत्री कृषणपाल गुर्जर ने एफएलसीसी के अध्यक्ष विनोद मालिक व उनकी टीम को इस कार्यक्रम की बधाई देते हुए गयारह लाख रुपये संस्था को देने की घोषणा की।

समारोह की विशेष अतिथि बडख़ल की विधायक सीमा त्रिखा ने कहा के इस कार्यक्रम ने एहसास करवाया की रफ़ी जी स्वर्गीय नहीं बल्कि आज भी जिवंत हैं और हम सब उनके गीतों के माध्यम से उन्हें जी रहे हैं। उन्होंने कहा की यदि हर व्यक्ति दिन में कोई भी दो गीत या भजन गाये व गुनगुनाये तो उसका दिन अच्छा बीतता है और पूरा दिन ऊर्जामई रहता है।

कार्यक्रम में प्रेम भक्ति शम्मी कपूर के गाने ‘अकेले अकेले कहां जा रहे हो’ पर लोगों को थिरकने पर मज़बूर कर दिया तो, रफ़ी का गीत ‘ए दुनिया के रखवाले’ , दर्द भरे मेरे नाले ,पर लोग भाव विभोर हो गए। चंडीगढ़ से आये विरंचि कौशिक ने रफ़ी के गीत आने से उसके आये बहार, पर खूब तालियां बटोरी। इसी प्रकार गायको ने रफ़ी के गीत, मोहब्बत जि़ंदा रहती है ,मर नहीं सकती तथा चुरा लिया है तुमने जो दिल को आदि गीत गा कर श्रोतआओ का मन मोह लिया।

समारोह में जय़ादातर गायक व कलाकार मुंबई , दिल्ली व देश के अन्य भागों से आये थे। फरीदाबाद नगर निगम सभागार में आयोजित इस गरिमामयी कार्यक्रम में सभागार पूरी तरह से भरा था और तालियों से गूँज रहा था।
संस्था के अध्यक्ष विनोद मालिक व महासचिव एम् एल नंदवानी सहित संस्था के पदाधिकारियों ने आये हुए अतिथियों का स्वागत करते हुए बताया की उनकी संस्था आगामी 5-7 अक्टूबर को तीन दिवसीय आयोजन करेगी जिसमे पुस्तक मेला , मुशायरा , कवी सम्मलेन व सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किये जायेंगे।

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here